यह हैं दुनिया की सबसे पुरानी 10 भाषाएँ | Amazing Facts In Hindi

 Amazing Facts In Hindi: दोस्तों, दुनिया में कितनी भाषाएं मौजूद हैं क्या आप जानते हैं? इसका जवाब देना थोड़ा मुश्किल है लेकिन एक अनुमान के मुताबिक पूरी दुनिया में भाषाओं की कुल संख्या लगभग 6809 है। अब आपके दिमाग में बहुत से सवाल आए होंगे जैसे कि दुनिया की सबसे पुरानी भाषा कौन सी है, क्या संस्कृत से पुरानी भी कोई भाषा है और क्या भारतीय भाषा से पुरानी भी कोई भाषा हो सकती है? 

तो आज के इस लेख में आपके सारे सवालों के जवाब एकदम क्लियर हो जाएंगे क्योंकि आज हम आपको दुनिया की टॉप 10 सबसे पुरानी भाषाओं के बारे में बताने जा रहे हैं। तो चलिए शुरू करते हैं। 


Top 10 OLDEST languages in the world in hindi


यह हैं दुनिया की सबसे पुरानी 10 भाषाएँ | Amazing Facts In Hindi


नंबर 10. कोरियाई भाषा। 

कोरियाई भाषा लगभग 600 ईसा पूर्व से बोली जाती है। यह भाषा आज 80 मिलियन से अधिक लोगों द्वारा बोली जाती है जिसमें 50 मिलियन साउथ कोरिया में और 30 मिलियन नॉर्थ कोरिया में रहते हैं। 

कोरिया में यूनीक लैंग्वेज फीचर है और यह कोरियाई भाषा परिवार से संबंधित है जो एक अलग भाषा है जिसका मीनिंग है कि इसका कोई करीबी रिश्तेदार नहीं है। इसलिए कोरियन लैंग्वेज का चाइनीज, जैपनीज या दूसरी पड़ोसी भाषाओं से कोई भी सीधा संबंध नहीं है। 

इस भाषा की लिपि हंगुल है। कोरियन अल्फाबेट हंगुल 1443 में राजा सी जोंग द ग्रेट द्वारा बनाई गई थी। कोरियाई एक टोनल भाषा है जिसका मतलब है कि आवाज की पिच शब्दों के अर्थ को बदल सकती है। कोरियन एक बहुत ही एक्सप्रेसिव लैंग्वेज है और इसका उपयोग अक्सर भावनाओं को व्यक्त करने के लिए किया जाता है। 


नंबर 9. लैटिन भाषा 

ये प्राचीन रोमन साम्राज्यऔर प्राचीन रोमन धर्म की आधिकारिक भाषा थी। लैटिन भाषा का उदय 700 ईसा पूर्व में हुआ था, जबकि इसके शिलालेख पहली बार 75 ईसा पूर्व में सामने आए थे। वर्तमान में यह पोलैंड और वेटिकन सिटी की आधिकारिक भाषा मानी जाती है। 

लैटिन भाषा संस्कृत की तरह ही एक शास्त्रीय भाषा है। यह इंडो यूरोपियन लैंग्वेज फैमिली की रोमांस ब्रांच में आती है। इसी से फ्रेंच, इटालियन, स्पेनिश, रोमानियन, पुर्तगीज और आज के समय की सबसे पॉपुलर भाषा इंग्लिश की उत्पत्ति हुई है। 

लाखों लोग अभी भी लैटिन भाषा सीख रहे हैं। हालांकि इसे मुख्य रूप से हायर एजुकेशन क्लासेस में एक सिलेबस के रूप में पढ़ाया जाता है। 


नंबर 8. हिब्रू भाषा 

हिब्रू, सामी हामी भाषा परिवार की सेमेटिक ब्रांच के अंतर्गत आने वाली भाषा है। हिब्रू भाषा लगभग 3000 वर्ष पुरानी है। यह वर्तमान में इजराइल की आधिकारिक भाषा है। 

हिब्रू भाषा के विलुप्त होने के बाद इजरायली लोगों ने इसे पुनर्जीवित किया है। यहूदी कम्युनिटी इसे बहुत ही पवित्र भाषा मानती है और आपको जानकर हैरानी होगी कि बाइबल का सबसे पुराना नियम इसी में लिखा गया था। 

यह भाषा हिब्रू लिपि में लिखी जाती है। यह भाषा दायें से बांये पढ़ी और लिखी जाती है। दोस्तों, ऐसी दूसरी कौन सी भाषा है जो राइट टू लेफ्ट लिखी और पढ़ी जाती है? अगर आपको पता है तो जल्दी से कमेंट करिए। 

आजकल वेस्टर्न यूनिवर्सिटी में हिब्रू भाषा को पढ़ाना काफी पॉपुलर है। पहले विश्व युद्ध के बाद फिलिस्तीन की आधिकारिक भाषा भी मॉडर्न हिब्रू ही है। 


नंबर 7.अरबी भाषा 

270 मिलियन नेटिव स्पीकर्स के साथ अरबी दुनिया में पांचवीं सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। यह 26 राज्यों की ऑफिशियल लैंग्वेज भी है जो इंग्लिश और फ्रेंच के बाद तीसरी सबसे बड़ी और इस्लाम की धार्मिक भाषा है। 

यह भाषा अरेबियन पेनिनसुला पर उत्पन्न हुई और तब से मिडिल ईस्ट और नॉर्थ अफ्रीका में फैल गई। कई यूरोपियाई भाषाएं अरबी भाषा से अफेक्टेड है और उनकी शब्दावली में इसका उपयोग किया गया है। 

इसके अलावा अरबी ने अपने पूरे जीवनकाल में दुनिया भर की कई भाषाओं को अफेक्ट किया है, जिनमें हिंदी, बंगाली, उर्दू और स्पैनिश शामिल हैं। यह भाषा एक समय आर्मेनियन रिपब्लिक की आधिकारिक भाषा हुआ करती थी। 

1000 ईसा पूर्व भी इसकी उपस्थिति के प्रमाण मिलते हैं। आज भी अरबी भाषा इराक, ईरान, सीरिया, इजराइल, लेबनान और मॉडर्न रोम में बोली जाती है। 


नंबर 6. चीनी भाषा 

यह हमारे पड़ोसी देश चाइना की आधिकारिक भाषा होने के साथ साथ यूनाइटेड नेशन, ताइवान और सिंगापुर की भी आधिकारिक भाषा है। यह विश्व की सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा भी है। यह चीन के अलावा ईस्ट एशिया के कुछ देशों में भी बोली जाती है। 

वर्तमान में करीब 1.2 बिलियन लोग चीनी भाषा बोलते हैं। ईसा से करीब 1200 साल पुरानी मानी जाती है चीनी भाषा। चीनी तिब्बती भाषा परिवार से संबंधित है और वास्तव में भाषाओं और बोलियों का एक समूह है। 

सबसे पहला चीनी लिखित अभिलेख 1200 ईसा पूर्व शांग राजवंश काल का माना जाता है, लेकिन कुछ विद्वानों का मानना है कि इस भाषा की जड़ें यांग शाओ संस्कृति में 5000 से 4000 ईसा पूर्व यांग शाओ की मिट्टी के बर्तनों के अवशेष आज के समय में सबसे पहले लिखी गई भाषा के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड रखते हैं। 


नंबर 5. ग्रीक भाषा 

1400 ईसा पूर्व की यह इंडो यूरोपीय भाषा परिवार से संबंधित है। ग्रीस में लगभग 13.5 मिलियन भाषाएं बोली जाती हैं। ग्रीक भाषा को सबसे पुरानी भाषाओं में से एक माना जाता है। 

प्राचीन ग्रीस के क्लासिकल पीरियड के दौरान यह भाषा कई बोलियों में विकसित हुई जिन्हें आयोनिक और एटिक कहा जाता है। इस काल के दौरान ग्रीक भाषा विकसित हुई जिसे अब हम बाइबल ग्रीक के रूप में जानते हैं। 

ग्रीक भाषा ने यूरोपियाई भाषाओं की उत्पत्ति का श्रेय लिया है। लगभग 6% इंग्लिश शब्दावली ग्रीक ऑरिजिन की है। 

longest word in greek language


जब इंग्लिश में ट्रांसक्राइब किया जाता है, तो जो शब्द आप ऊपर देख रहे हैं, सबसे लंबा इंडियन ग्रीक वर्ड है जो एक काल्पनिक व्यंजन का नाम  है और इसे क्रिस्टोफर ने अपनी कॉमेडी असेंबली वुमन में बनाया था। 

वर्तमान में ग्रीक भाषा ग्रीस, अल्बेनिया और साइप्रस में बोली जाती है। लगभग 13 मिलियन लोग आज भी ग्रीक बोलते हैं। 


नंबर 4. मिस्र भाषा 

इसे अफ्रीकन कॉन्टिनेंट की पहली भाषा के रूप में जाना जाता है। यह भाषा अफ्रीका और मिस्र में व्यापक रूप से बोली जाती है और यह भाषा लगभग 4700 साल पुरानी है। यह एक प्राचीन भाषा होने के साथ साथ सबसे लंबे समय तक सर्टिफाइड मानव भाषा भी है, जिसका लिखित रिकॉर्ड चार हज़ार वर्षों से अधिक का है। 

इसके क्लासिकल फॉर्म को मिडिल इजिप्ट के रूप में जाना जाता है। ये मिस्र के मिडिल किंगडम की लोकल लैंग्वेज है, जो रोमन काल तक मिस्र की साहित्यिक भाषा बनी रही। 

क्लासिकल एंटिक्विटी के समय तक बोली जाने वाली भाषा डेमोटिक में एडवांस्ड हो गई थी और रोमन युग तक यह कॉप्टिक डायरेक्ट में बदल गई। मिस्र पर मुस्लिम विजय के बाद इजिप्शियन लैंग्वेज को अरबी भाषा द्वारा रिप्लेस कर दिया गया। 

हालांकि वो कॉप्टिक चर्च की धार्मिक भाषा  के रूप में आज भी उपयोग की जाती है। इसे जीवित ग्रंथों के एक बड़े संग्रह से जाना जाता है, जिन्हें सेंचुरी की शुरुआत प्राचीन मिस्र की स्क्रिप्ट के एक्सप्लेनेशन के बाद आधुनिक दुनिया के लिए एक्सेसिबल बना दिया गया। 


नंबर 3. तमिल भाषा 

तमिल भाषा को दुनिया की सबसे पुरानी भाषा के रूप में मान्यता प्राप्त है और यह द्रविड़ परिवार की सबसे पुरानी भाषा है। इस भाषा की मौजूदगी लगभग पाँच हज़ार साल पहले भी थी। 

एक सर्वे के मुताबिक रोज़ाना लगभग 1863 न्यूजपेपर केवल तमिल भाषा में पब्लिश होते हैं। वर्तमान समय में तमिल भाषा बोलने वालों की संख्या लगभग 7.7 करोड़ है। 

यह भाषा भारत, श्रीलंका, सिंगापुर और मलेशिया में आज भी बोली जाती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि श्रीलंका और सिंगापुर दोनों देशों में 78 मिलियन लोगों की आधिकारिक भाषा आज भी तमिल है। 

पुरानी भाषाओं में ज्यादातर भाषाएं आज के समय में लागू नहीं होती, लेकिन तमिल ऐसी भाषा है जो इतनी पुरानी होने के बाद भी आज इतने सारे लोग रोज की बोलचाल में इसका प्रयोग करते हैं। 



यह भी पढ़ें : 

चीन में खाए जाएँ वाले 10 सबसे घिनौने भोजन जिनको जान के आप उलटी कर देंगे| Amazing Facts In Hindi

यह हैं दुनिया के 10 ऐसे देश जिन्हें अमेरिका तक नहीं हरा सकता | Amazing Facts In Hindi

10 फेमस भारतीय youtubers और influencers जो अपनी बेवकूफी से हुए अरेस्ट | Amazing Facts In Hindi

भारत के 10 अरबपति जो आज सड़क पर हैं | Amazing Facts In Hindi


नंबर 2. सुमेरियन भाषा 

सुमेरियन भाषा का उदय लगभग 5200 साल पहले हुआ। इसे सबसे पुरानी लिखित भाषा का खिताब भी प्राप्त है। सुमेरियन ने क्यूनीफॉर्म का यूज करके यह भाषा लिखी। 

क्यूनीफॉर्म में पत्थर के आकार के साइन शामिल थे, जिन्हें सुमेरियन ने एक नुकीले रीड स्टाइलस का उपयोग करके नरम मिट्टी की गोलियों पर छाप बना कर बनाया था। 

आर्कियोलॉजिस्ट को टीचिंग मटीरियल और एडमिनिस्ट्रेटिव रिकॉर्ड्स के शिलालेखों के साथ फोर्थ मिलेनियल की कुछ गोलियां मिली। 

दक्षिण मेसोपोटामिया में रहने वाले प्राचीन सुमेरियन लोग इस विलुप्त हो चुकी भाषा का उपयोग करते हैं। लेकिन अब सुमेरियन लोगों ने सेमेटिक अकार्डियन बोलना शुरू कर दिया है। 

आपको जानकर हैरानी होगी कि असिरो बेबीलोनियन ने इसे बोलना बंद करने के बाद लगभग एक सदी  तक इसे लिखित भाषा के रूप में उपयोग करना जारी रखा। 


नंबर 1. संस्कृत भाषा 

संस्कृत भाषा को देवभाषा यानि देवताओं की भाषा कहा जाता है। यह भाषाओं के इंडो आर्यन परिवार से संबंधित है और इसका उपयोग पवित्र वेदों को लिखने के लिए किया गया था। 

संस्कृत भाषा को छह हज़ार साल पुराना माना जाता है। हालांकि कुछ लोग इसे चार हज़ार साल पुराना बताते हैं, पर वहीँ इसे बहुत से बुद्धिजीवी सारी भाषाओं की माता तक मानते हैं । संस्कृत अभी भी लगभग 7000 व्यक्तियों द्वारा एक भाषा के रूप में उपयोग की जाती है। 

संस्कृत का पहला लिखित उदाहरण  ऋग्वेद में मिलता है, जो वैदिक संस्कृत भजनों का एक कलेक्शन है। कुछ अध्ययनों के अनुसार सभी यूरोपीय भाषाएं संस्कृत से प्रेरित लगती है। दुनिया भर में फैले सभी यूनिवर्सिटीज और एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस संस्कृत को सबसे प्राचीन भाषा मानते हैं। 

ऐसा माना जाता है कि दुनिया की सभी भाषाओं की उत्पत्ति कहीं न कहीं संस्कृत से ही हुई है। हालांकि वर्तमान समय में संस्कृत बोलचाल की भाषा के बजाय पूजा और अनुष्ठान की भाषा बन गई है। हिंदू धर्म में किए जाने वाले सभी शुभ कार्य वेद मंत्रों द्वारा किए जाते हैं, जिनकी भाषा संस्कृत है। 


निष्कर्ष (Amazing Facts In Hindi)

तो दोस्तों यह था आज का हमारा लेख यह हैं दुनिया की सबसे पुरानी 10 भाषाएँ के बारे में। दोस्तों आपको क्या लगता है ,की संस्कृत भाषा कितनी पुराणी होगी , जो भाषा वेदों में उपयोग की गयी हो तो क्या वह सिर्फ 7000 हज़ार साल पुरानी ही होगी। कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमें जरूर बताइयेगा। लेख में यहां तक हमारे साथ बने रहने के लिए धन्यवाद। 

Ethan

About the Author: Ethan is an experienced content writer with over 7 years of experience in crafting engaging and informative articles. His passion for reading and writing spans across various topics, allowing him to produce high-quality content that resonates with a diverse audience. With a keen eye for detail and a commitment to excellence, Ethan consistently delivers top-notch work that exceeds expectations.

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने