Financial Freedom से आगे जाने के लिए आपको इन 7 स्टेप्स को पार करना होगा-Finance in Hindi

Finance in Hindi: फाइनेंशियल फ्रीडम, जब हम इस बात को सुनते हैं तो हमारे माइंड में बहुत कुछ चलना शुरू हो जाता है। एक ऐसी लाइफ जहां हमें कुछ काम नहीं करना पड़ रहा है, या करना भी पड रहा है तो बहुत ही कम। एक आलीशान घर ,अपनी पसंद की गाडी है, हम जो चाहे वो खरीद सकते हैं, पूरी दुनिया में हम घूम सकते हैं। मतलब कि पैसों की तो कोई कमी ही नहीं है। 

इन्हीं वजहों से फाइनेंशियल फ्रीडम के पीछे आज दुनिया का लगभग हर इंसान भाग रहा है ताकि वो भी फाइनेंशियली फ्री हो और कुछ ऐसी ही लाइफ जी सके। परअगर मैं आपसे ये बोलूं कि फाइनेंशियल फ्रीडम हमारी आखिरी स्टेज है ही नहीं। मतलब अगर आपको एक्चुअल में एक अमीर इंसान बनना है तो आपको फाइनेंशियल फ्रीडम से भी आगे जाना होगा। 

Financial Freedom

हां, पढ़कर थोडा अजीब लगा होगा, पर इस आर्टिकल के आखिर तक आपको सब कुछ क्लियर हो जाएगा। देखो अगर आप एक मिडिल क्लास इंसान हो या चलो एक लोअर मिडिल क्लास से भी हो तो आखरी गोल तो आपका यही होगा कि आपको अमीर बनना है। मतलब अमीरी या फाइनेंशियल फ्रीडम को हम अपना दूसरा टारगेट मानकर चलते हैं। 

मैं आपको बता दूं कि इस जर्नी में आपको यहां दो नहीं बल्कि सेवेन स्टेज से होकर गुजरना होता है और ये सातों की सातों स्टेज एक दूसरे से बिल्कुल ही अलग है। आप ये मान सकते हो कि अगर आप एक अमीर इंसान बनना चाहते हो तो बिना इन 7 स्टेज से गुजरे ये पॉसिबल ही नहीं है। इनको आप दूसरे वर्ड्स में माइलस्टोन भी कह सकते हो जो एक एक करके आपको पूरे करने होंगे। 

अगर आपका अमीर इंसान बनने का टारगेट है तो आगे इस आर्टिकल के अंदर आप इन्हीं सेवेन स्टेजेस को जानेंगे जिससे न सिर्फ आपको वेल्दी बनने का एक रोडमैप मिल जाएगा बल्कि आपको यह भी पता चल जाएगा कि अभी आप कौन सी स्टेज पर हो। तो चलिए बिना ज्यादा टाइम लगाए अब सीधा पॉइंट पर आते हैं। 


यह भी पढ़ें :

1. Financial Survival

ये वो स्टेज है जहां सबकी फाइनेंशियल जर्नी की शुरुआत होती है। इसको आप बेस लेवल भी मान सकते हो। यहां आपको कोई आइडिया नहीं होता कि आपको कैसे पैसे कमाने हैं। पैसों के मामले में आप पूरी तरह से दूसरों पर डिपेंडेंट होते हो। इनफैक्ट आपके पास इतना पैसा भी नहीं होता कि आप अपनी इच्छा से कुछ भी खरीद सको। 

इसके अंदर आप स्किल या फिर एजुकेशन की तलाश कर रहे होते हो, ताकि इनको सीख कर आप पैसे कमाने के काबिल हो जाओ। ये लेवल हमारे लिए बहुत चैलेंजिंग होती है, क्योंकि स्किल्स और एजुकेशन लेते हुए हमको ये अंदाजा लगना शुरू हो जाता है कि हमारा एक्चुअल पैशन किस चीज में है। और जब ये पैशन हमारे घरवालों की उम्मीद से मैच नहीं करता तो हमको बहुत कुछ सहना पड़ता है। 

मैं सहना इसलिए बोल रहा हूं क्योंकि इस स्टेज में तो हम अपने घरवालों पर ही डिपेंडेंट होते हैं और इसी वजह से उनकी मर्जी के खिलाफ हमें कोई भी करियर चुनने से पहले 100 बार सोचना पड़ता है। तो आखिर में आकर कुछ तो अपना मन मारकर दूसरों के बताये रास्ते पर चल पड़ते हैं। पर कुछ लोग रिस्क लेकर अपने टैलेंट को एक्सप्लोर करते हैं। 


2. Breathing Room 

यहां फाइनली आपका एक इनकम सोर्स बिल्ड हो चुका है। वो चाहे जॉब से हो या बिजनेस से। इस लेवल पर आकर आपको किसी पर डिपेंड रहने की जरूरत नहीं पड़ती, क्योंकि आपको इतना पैसा तो मिल रहा होता है कि आप अपने साथ साथ अपने घरवालों का खर्चा भी चला सको। पर इतना ज्यादा नहीं होता कि आप कुछ बचा भी सको उसमें से, मतलब कि यहां आपकी लाइफ एक सर्कल में चलती है। 

जहां पहली तारीख में इनकम आना और 30 तारीख तक सारे पैसे खर्च हो जाना, यही सब चलता रहता है। और ऐसा भी नहीं है कि आप फालतू पैसे खर्च करते हो। आप मजबूर होते हो क्योंकि आपकी इनकम ज्यादा नहीं होती। आप यकीन नहीं करोगे कि लगभग 90% भारतीय हमेशा इसी स्टेज पर फंसे रहते हैं। कई लोग आपने ऐसे देखे होंगे जो मेहनत तो बहुत करते हैं पर जब भी उन्हें कुछ बजट के बाहर का दिख जाता है तो वो बस मन मारकर रह जाते हैं। 

ब्रीदिंग रूम से बाहर निकलने के लिए कुछ लोग ओवरटाइम भी करते हैं। जहां पर उनके ऑप्शंस में एक साइड बिजनेस, एक साइड हसल, एक पार्ट टाइम जॉब या फिर खुद के ही बिजनेस को और ग्रो करना होता है। यहां पर उनको कंटीन्यूअस लगकर काम करना पडता है। तब कहीं जाकर उनका जो करंट फाइनेंशियल स्टेटस है वो ऊपर की तरफ जाता है। 


3. Financial comfort

आखिरकार इस तीसरी स्टेज में आते आते आपकी इनकम इंक्रीज हो चुकी है और अब आप सारे खर्चे करने के बाद भी कुछ बचा पा रहे हो। आपकी फाइनेंशियल कंडीशन ऐसी हो चुकी है कि आप एक कंफर्टेबल लाइफ जी पा रहे हो क्योंकि जो भी आपकी बेसिक नीड्स है वो आराम से पूरी हो रही है। 

आपकी ये टाइम एक बेस्ट टाइम होता है फाइनेंशियल प्लानिंग करने के लिए। जहां सेविंग्स करना, इमरजेंसी फंड निकालना, आने वाले बच्चों की एजुकेशन के लिए बजट बनाना, रिटायरमेंट के लिए प्लानिंग करना ये सब चीजें शामिल हैं। इनमें से किसी भी चीज की शुरुआत अगर आप इसी लेवल पर कर देते हैं तो यहीं से आपका फ्यूचर कहीं न कहीं सिक्योर हो रहा होता है। वैसे फाइनेंशियल कंफर्ट की एक डार्क साइड भी है। 

यहां पर कुछ पैसा बचता देख लोगों से अपने इमोशंस कंट्रोल नहीं होते और फिर जितनी भी उनकी टोटल इनकम है वो अपने खर्चे भी उतना ही बढ़ा लेते हैं। ऐसा करने से वो फिर से दूसरे लेवल पर अटक जाते हैं। इसलिए इस लेवल पर आकर अपने इमोशंस को कंट्रोल में रखना बहुत जरूरी होता है ताकि आप यहां वहां पैसा न उड़ाकर अपनी फ्यूचर सिक्योरिटी में लगा सकें। 


4. Financial Security

यहां पर आप फाइनेंशियली काफी हद तक सिक्योर हो चुके हो। आपके पास सेविंग है, इमरजेंसी फंड आपका बना हुआ है, कर्जा तो कोई है ही नहीं आपके ऊपर और आपकी इनकम इतनी है कि आप और आपकी फैमिली अपनी सारी बेसिक नीड्स पूरी कर पा रही है। इसका नाम फाइनेंशियल सिक्योरिटी इसलिए है क्योंकि सिक्योर हो यहां पर आप। 

इस स्टेज में आप पर किसी तरह का पर कोई प्रेशर नहीं है। आपको अपनी जॉब चले जाने या बिजनेस के डाउन पर जाने का बहुत ज्यादा डर नहीं है और न ही आप इस चिंता में हो कि आपको पैसा उधार लेना पड़ जाएगा। आपके पास इतना अमाउंट है कि आप लगभग छह महीनों तक सर्वाइव कर जाओ और छह महीने खुद को वापस स्टैब्लिश करने के लिए काफी होते हैं। 

इस लेवल पर आकर लोग अपनी इन्वेस्टिंग की शुरुआत करते हैं। वो अलग अलग चीजों पर पैसा लगाते हैं और एसेट्स बिल्ड करते हैं ताकि उनका फ्यूचर तो सिक्योर हो ही, साथ ही उनकी जो जॉब डिपेंडेंसी है, वो और भी कम हो जाए। 


5. Financial Freedom

फाइनली यहां पर आप उस लेवल पर आते हो जहां पहुंचने के सपने देखते हो आप। यहां पर आपको काम करने की कोई जरूरत नहीं पडती या जरूरत पडती भी है तो बिल्कुल ना के बराबर। क्योंकि अपनी इन्वेस्टमेंट से आप कई असेट्स बना चुके हो और यह एसेट्स आपको पैसे भी लगातार दे रहे हैं। 

इस लेवल में आपके पास दो ऑप्शन होते हैं या तो जैसे आपकी लाइफ अभी चल रही है, उसको अपने एसेट्स के दम पर आप ऐसे ही जीते रहो या फिर उस बडी प्रॉब्लम को फाइंड आउट करने में लग जाओ, जो लोग फेस कर रहे हैं ताकि उस पर कोई सर्विस या कोई प्रोडक्ट बनाकर आप बडी मार्केट में उतर सको और लोग आपको फिर आपके नाम से नहीं आपके ब्रांड के नाम से जानने लगे। 

दूसरा ऑप्शन चूज करने वाले लोग एक बडा रिस्क उठाते हैं क्योंकि जो प्रोडक्ट या सर्विस पर वह करोडों की इन्वेस्टमेंट लगाते हैं, लॉन्च होने के बाद वह कितना प्रॉफिट देगी इसका कोई अंदाजा नहीं होता उनको। कई लोग ऐसे रिस्क उठाने के चक्कर में पूरी तरह से कंगाल हो गए और वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनका बहुत जल्दी बिजनेस ग्रो हो गया और आज वो एक बडी कंपनी बनाकर मार्केट को लीड कर रहे हैं। 


6. Financial Attendance

इस लेवल पर आकर आप करोडों कमाने के नहीं बल्कि डोनेट करने के काबिल हो जाते हो क्योंकि आपकी कंपनी अपनी कंट्री की टॉप कंपनीज में से एक होती है। यहां पर आप अपनी कंपनी का IPO निकलवा चुके होते हो ताकि अपनी इस कंपनी को आप और नेक्स्ट लेवल तक पहुंचा सको। 

आप इतना तो कमा ही चुके होते हो कि सिर्फ आप ही नहीं आपके आने वाली अगली पीढी भी आराम से बैठकर खा सके। अब आप जो भी आपकी इच्छा है वो खरीद सकते हो और दुनिया भर में जहां भी घूमना चाहो आप घूम सकते हो। आपकी पहचान आपके नाम से नहीं आपके ब्रांड से होती है और यहां आपके पास ऑप्शन होता है कि आप अपनी कंपनी को वर्ल्ड वाइड लेकर जाओ। दुनिया भर में अपने प्रोडक्ट को और पॉपुलैरिटी गेन करवाओ। 


7. Financial Legacy

अब यहां पर ना सिर्फ आपने अपने लिए फाइनेंशियल फ्रीडम अचीव की बल्कि आपने एक लेगसी क्रिएट कर दी जिसमें आपकी आने वाली पांच पीढी भी आराम से गुजारा कर सकती है। आपकी मेन कंपनी दुनिया भर की टॉप कंपनीज में से एक बन गई है। यह सिर्फ आपकी कंट्री में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया भर में फेमस हो गई है। 

इसके अलावा आपके पास अब और भी कई मल्टीपल कंपनीज है। यहां आपके अंदर इतना पोटेंशियल है कि आप आने वाली जनरेशन के लिए रेवोल्यूशन ला सकते हो। एक ऐसा रिवॉल्यूशन जो लोगों की लाइफ बदलकर रख दे। एलोन मस्क, आपको पता ही होगा एक मिशन पर है जहां पर उनका यह मानना है कि आने वाले टाइम में अर्थ पर रहना शायद पॉसिबल नहीं हो पाएगा। 

तो अपनी कंपनी स्पेसएक्स के थ्रू कुछ ऐसा करने जा रहे हैं जो अब तक नहीं हुआ। उनका प्लान यह है कि वो इंसान को पृथ्वी से mars पर शिफ्ट करना चाहते हैं ताकि आने वाले टाइम में पृथ्वी अगर रहने लायक न बचे तो इंसान वहां से अपनी लाइफ कंटीन्यू कर सके। अब वह इस तरह का रेवोल्यूशन ला पा रहे हैं क्योंकि वह भी इस लेवल पर है। उनके अंदर इतना पोटेंशियल है कि वो इसे सक्सेसफुल भी कर सकते हैं। 


Final Words

तो यह थी फाइनेंशियल लेवल पर आजादी पाने की 7 stages। कमेंट करके जरूर बताना कि अभी आप कौन सी स्टेज पर हो और आप पहुंचना कौन सी स्टेज तक चाहते हो।  

Ethan

About the Author: Ethan is an experienced content writer with over 7 years of experience in crafting engaging and informative articles. His passion for reading and writing spans across various topics, allowing him to produce high-quality content that resonates with a diverse audience. With a keen eye for detail and a commitment to excellence, Ethan consistently delivers top-notch work that exceeds expectations.

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने