26 ASSETS that make you financially free | How to get rich HIND

 दोस्तों ,इस आर्टिकल में हम financially free होने के लिए 26 assets के बारे में जानेंगे। इनमें से कुछ assets आइडिया Warren Buffett की बचपन की किताब One thousand ways to make $1000 से बताए गए हैं। और कुछ आइडियाज वह हैं, जो मेरे दोस्तों ने execute करें हैं। तो I hope  इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद बहुत से आइडियाज आपके दिमाग में आएंगे । 

Real Meaning of having Financially Free 

सबसे पहले जो लोग नहीं समझते तो Financially Free  होने का मतलब यह है कि हमें इतना पैसा हर महीने मिलता रहे जिससे हमें अपनी बेसिक लाइफ की जरूरतों  के बारे में ना सोचना पड़े। तो बेसिकली फाइनेंशियली फ्रीडम अचीव करने के दो तरीके हैं। 

Real Meaning of having Financially Free

पहला इतना कैश सेव कर लो कि हमें उससे पूरी ज़िन्दगी पैसा मिलता रहे और ये approximately आता है 25 times हमारी annual income के। यानी अगर हर महीने आपको ₹1 लाख चाहिए तो साल के हुए 12 लाख ,और उसका 25 गुना हुआ 3 करोड़। अगर हमे हर महीने के 50,000 चाहिए तो उसका हुआ 6 लाख और 12 महीने के 25 गुना के हिसाब से हुए डेढ़ करोड़। यानी बहुत से लोगों के अकॉर्डिंग ये एक ऐसा नंबर है जिसे सेव करने के बाद हम फाइनेंशियली फ्री हो सकते हैं। 

दूसरा तरीका है इतने paper assets जैसे कि डिविडेंड, paying shares , इत्यादि  या फिजिकल एसेट्स जैसे कि रेंटल प्रोपर्टीज बना लो ताकि हमें मिनिमम हर महीने  रिक्वायर्ड पैसे मिलते रहें। तो आइए अब हम देखते हैं उन 26 ऐसेट्स को।दोस्तों  इस आर्टिकल को आप पूरा पढ़ियेगा क्योंकि इनमें से आपने बहुत से एसेट्स सुने भी नहीं  होंगे। 


26. Mining 

तो 26 वे नंबर पर आता है माइनिंग।1848 में कैलिफोर्निया में गोल्ड रश हुआ था। सबको लग रहा था कैलिफोर्निया की जमीनों में बहुत सोना है, इसलिए 3 लाख लोग वहां पहुंचे। माइनिंग के दौरान सोना तो बहुत कम लोगों को मिला।

crypto mining


लेकिन कुछ ऐसे लोग थे जिन्होंने कोई रिस्क नहीं लिया और उन्होंने बहुत पैसे कमाए और वो थे दुकानदार जो माइनिंग कर रहे लोगों को खुदाई के लिए सामान बेच रहे थे, जींस  वगैरह बेच रहे थे। ऐसा ही कुछ रिसेंटली क्रिप्टोकरेंसी के केस में हुआ है। कई लोग क्रिप्टोकरंसी खरीद रहे थे, कुछ ने पैसे कमाए और कुछ ने पैसे नहीं कमाए। 

लेकिन कई लोगों ने क्रिप्टोकरेंसी की माइनिंग की। तो बेसिकली क्रिप्टो वर्ल्ड में माइनिंग का मतलब है एक कंप्यूटर को ओपन करके छोड़ दो। वो कुछ बिजली लेगा और अपनी प्रोसेसिंग power देगा, जिसके बदले हमें crypto  coins मिलेंगे जिन्हें हम बेच सकते हैं। 

अगर हम बड़े स्केल की बात करें तो चाइना और अमेरिका में लोगों ने बहुत ही लार्ज स्केल में क्रिप्टो माइनिंग की, और बिटकॉइन वगैरह की कीमत बढ़ने पर उन्होंने बहुत पैसे कमाए। छोटे स्केल में बात करें तो लोग अपने घरों में इन mining rigs को रखकर बहुत पैसे कमा रहे थे। 

crypto mining rig


एक्चुअली, एसेट्स की डेफिनिशन में यह almost true एसेट  था, क्योंकि इसे मैनेज करने के लिए हमें अपना बहुत ही कम टाइम इन्वेस्ट करना था और इन्वेस्टमेंट हम 25 से 30000 रुपयों में स्टार्ट कर सकते थे। 


25. Prepared Mining Rigs 

27 नंबर पर आता है Prepared Mining Rigs। अब कई लोगों को ये भी रिस्की लग रहा था कि हम Mining Rigs घर में क्यों लगाएं। पता नहीं कल को बिटकॉइन या इथेरियम के प्राइस बढ़े या ना बढ़े। तो जो ज्यादा सेफली खेलना चाहते थे उन्होंने माइनिंग रिग्स खुद यूज करने के बजाय बेचना स्टार्ट कर दिया ताकि वो हमेशा प्रॉफिटेबल रहें। तो माइनिंग रिग्स बेसिकली आप मान सकते हैं कि एक तरह का सीपीयू का डब्बा है। 


24. Mining Cards 

28 नंबर पर आता है Mining Cards. क्रिप्टो माइनिंग में तीसरे तरीके के लोग वो थे जो असल में Mining Rigs भी नहीं बेचे रहे थे बल्कि उसके अंदर के जो ग्राफिक कार्ड, मदरबोर्ड थे  वो बेच रहे थे। और यह तभी इन graphic cards का ओडर करते  जब एक्चुअल में डिमांड होती। कई लोगों को बीच में इसमें नुकसान भी हुआ क्योंकि ऐसा लग रहा था कि कहीं  भारत सरकार क्रिप्टो को बैन ना कर दे। 


23. Renting 

23 नंबर पर आता है रेंटिंग। तो दोस्तों  हमारे एक मित्र थे जो कि नॉर्मल सी जॉब में थे लेकिन वो हर साल कुछ डिफरेंट करते थे जो बाकी उनके एज ग्रुप के लोग नहीं करते थे। हर साल वो थोड़े थोड़े पैसे इन्वेस्ट कर के उन्होने अपने रिटायरमेंट तक एक रेंटल प्रोपर्टी क्रिएट कर दी थी जिसमें 10 से 12 यूनिट्स थे और सारे रेंट पर चढ़ चुके थे। यानी अब वो फाइनेंशियली फ्री थे। 

इतना ही नहीं अगर वो चाहे तो उसी बिल्डिंग में और कमरे बनाकर और रेंटल इनकम जेनरेट कर सकते थे। ये कॉमन एग्जाम्पल है लेकिन बहुत ही कम लोग इसे एग्जीक्यूट करते हैं क्योंकि ये थोड़ा स्लो मेथड है। अगर आप सोच रहे हैं कि मेरे पास इतने पैसे तो हैं नहीं कि मैं रेंटल प्रॉपर्टीज में लगा सकूं  तो इसके लिए अगला  एसेट क्लास आपके लिए ही है। 


22. REIT 

दोस्तों 22 नंबर पर है REIT . जिस तरह से हम म्यूचुअल फंड्स में बहुत से लोग मिलकर एक एक्सपर्ट को पैसे देते हैं कि वो बेस्ट कंपनीज में हमारे लिए पैसे इन्वेस्ट करें, जिसका रिटर्न हमें मिलता है। वैसे ही रियल इस्टेट में जब हम प्रॉपटी के एक्सपर्ट को पैसे देते हैं तो वो अच्छी प्रॉपर्टीज खरीदते हैं और उसका रेंट सब लोगों में  डिस्ट्रीब्यूट कर देते हैं और ऐसे एसेट्स को REIT कहते हैं यानि Real Estate Investment Trust

इसमें हमें रेंटल इनकम के साथ साथ अगर प्रॉपर्टी की एप्रिसिएशन भी होती है तो उसका बेनिफिट भी हमे मिलता है। इंडिया में अभी यह थोड़ा न्यू कॉन्सेप्ट है, लेकिन Embassy Office Park REIT , Mind Space Business Park REIT, और Brookfield India Real Estate Trust इंडिया की रीयल एस्टेट इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट से जुड़ी हैं। 


21. Digital Courses 

21 नंबर पर आता है Digital Courses. अगर हमारे पास कोई भी स्किल है जैसे इन्वेस्टिंग, विडियो एडिटिंग, रियल इस्टेट, डिजिटल मार्केटिंग तो इसका डिजिटल कोर्स बना कर हम ऑनलाइन सेल कर सकते हैं। पर इसके लिये हमें marketing skills चाहिए होगी या ऑडियंस, जो हमारे पास पहले से ही है। मार्केटिंग स्किल्स के बारे में डिटेल में हम आगे डिस्कस करेंगे। 


यह भी पढ़ें : पैसो को संभालने में क्यों मुर्ख है Middle-Class इंसान | 10 Middle-Class Traps That Make Middle-Class Poor


20. Dividend Paying Stocks 

20 नंबर पर आता है Dividend Paying Stocks. कई कंपनीज इतनी बड़ी हो जाती हैं कि उन्हें पता नहीं चलता कि वो अपना प्रॉफिट दोबार से reinvest कहां पर करें। इसलिए वो अपने प्रॉफिट का कुछ हिस्सा शेयरहोल्डर्स को दे देती हैं, जिसे डिविडेंड बोलते हैं। 

इसका फायदा इनवेस्टर्स को यह होता है कि अगर कंपनी अच्छी चलती है तो उनके शेयर का प्राइस भी बढ़ेगा और साथ में डिविडेंड भी मिलता रहेगा। बजाज ऑटो, आईटीसी, गेल ऐसी कंपनीज हैं, जो डिविडेंड देती हैं। मगर इन कंपनीज के शेयर्स को खरीदना भी है या नहीं, ये कैसे पता चलेगा? तो अगर आप इस एसेट क्लास में इंटरेस्टेड हैं, तो आप Falcon Method नामक बुक को स्टडी कर सकते हैं। 


19. precious metals, like gold, silver

19 नंबर पर आता है precious metals, like gold and silver। कई लोग गोल्ड और सिल्वर को एसेट मानते हैं। खासकर के रॉबर्ट जियूफ़ा, जिन्होंने बहुत से सिल्वर और गोल्ड के कॉइन्स बॉक्सेज में बंद करके अपने घर रखे हैं। क्योंकि गोल्ड और सिल्वर का प्राइस हमेशा इन्क्रीज होता रहता है। 

लेकिन कई इनवेस्टर्स गोल्ड और सिल्वर को एसेट्स नहीं मानते। उनका मानना है कि यह इनकम जेनरेटिंग एसेट नहीं है यानी यह खुद कुछ नहीं कर सकता। खेर, फाइनल डिसीजन तो हमें खुद ही लेना पड़ेगा कि हम किनकी थ्योरी से सैटिस्फाइड हैं। 



18. Cash 

वहीं 18 नंबर पर आता है कैश। अगर हम इतना कैश सेव कर चुके हैं कि उससे आ रहा इंटरेस्ट ही हमें इतने पैसे दे सकता है कि हम फाइनेंशियली फ्री हो जाएं। इस इंटरेस्ट रेट को optamize करने के लिए लोग 12 -12 साल के लिए इंडेक्स फंड में पैसा इनवेस्ट कर देते हैं और हर 12 साल के बाद हाफ अमाउंट निकाल लेते हैं। अगर आपको Index Funds के बारे में पूरा जानना है तो नीचे दी गयी वीडियो को जरूर देखें। 


 

17. Online eBook 

17 नंबर पर आता है Online eBook। Hugh C Howey  एक अमेरिकन साइंस फिक्शन राइटर हैं जिन्होंने बहुत ही फेमस साइंस फिक्शन सीरीज Silo लिखी थी। तो शुरू की बुक्स इन्होंने सेल्फ पब्लिश की थी एमेजॉन किंडल में वह भी एकदम फ्री। और एक वक़्त ऐसा था की हर महीने 20000 से 30000 कॉपी बिक रही थी जिसका मतलब है कि करीबन ₹1 करोड़ हर महीना । 

पर मैंने देखा है इंडिया में बहुत मुश्किल है इस तरह की सक्सेस को replicate करना क्योंकि बहुत ही कम लोग कॉन्टेंट के लिए पैसे स्पेंड करते हैं। लेकिन अगर आप फॉरेन कंट्रीज के लिए कॉन्टेंट लिख सकते हैं या फिर मार्केटिंग में अच्छे हैं तो यह काम कर सकता है। 


16. Rent Your Car 

16 नंबर पर आता है Rent Your Car. एक हमारे जानने वाले हैं जो कि जॉब में हैं और उन्होंने अपनी एक एक्स्ट्रा कार को रेंट पर दे दिया था टूरिज़म के लिए, क्योंकि उनके कुछ फ्रेंड्स होटल्स में थे, जिससे उनकी कार की सारी इंस्टॉलमेंट पूरी हो गई और car loan खत्म होने के बाद भी उन्हें एक्स्ट्रा इनकम आती रही। इशू यह होता है कि हम एक एसेट बनाकर रुक जाते हैं, बल्कि रियल financial knowledge वह है, जब हम एसेट को लाइफ लॉन्ग बनाते रहते हैं। 


15. Farming 

15  पर आता है फार्मिंग। फार्मिंग ,स्पेशली मशरूम फार्मिंग ऐसी चीज है, जिसमें काफी पोटेंशियल है। और स्पेशली अगर आपके आसपास कोई मंडी है, जहां मशरूम की डिमांड है। मेरे एक फ्रेंड एक बार अपने जानने वाले की स्टोरी मुझे बता रहे थे कि किसी ने मशरूम फार्म खोला था और वहां लोग काम करते हैं जो बीच में से मशरूम निकाल लेते हैं। 

और वह उसके मालिक पर हंस रहा था कि मालिककभी विजिट ही नहीं करता। लेकिन मेरे ओपिनियन में तो मालिक इंटेलिजेंट है जिसने खुद के लिए एसेट बना लिया है और वो प्रॉफिटेबल भी हैं। थोड़े बहुत मशरूम बीच में गायब हो भी जाए तो किसे फर्क पड़ता है। 


14. Land 

14 नंबर पर आता है लैंड। खाली जमीन पर paid parking से लेकर मैरिज प्लेसेस  से लेकर रिटायर्ड सोल्जर्स की ट्रेनिंग सेंटर ये सब oppurtunities हैं जो अगर हमारे केस में पॉसिबल है तो इन्हें हम कंसीडर कर सकते हैं। 


13. High Income Skills 

13 नंबर पर आता है High Income Skills। High Income Skills वो स्किल्स हैं, जिनकी अभी मार्केट में डिमांड है और उसके लिए हमें बाकी जॉब्स के वनस्पत ज्यादा पैसे मिल रहे हैं।उदहारण के लिए मोबाइल एप डेवलपमेंट एक ऐसी जॉब है जहां पर कई फ्रीलांसर जैसी वेबसाइट से लोग मिलियन डॉलर्स यानी ₹7 करोड़ भी कमा चुके हैं। इसका फायदा यह है कि हम फ्रीलांस काम यूएस जैसी हाई पेइंग क्लाइंट्स को भी टारगेट कर सकते हैं। 


यह भी पढ़ें :स्मार्ट निवेश के साथ करोड़पति कैसे बनें:5-Year easiest Investment Plan


12. Freelancing 

12 नंबर पर आता है फ्रीलांसिंग। सो, फ्रीलांसिंग सिर्फ एप्लीकेशन डेवलपमेंट के लिए नहीं है, बल्कि हम बाकी चीजों में भी इसे कर सकते हैं। मेरी ओपिनियन में यह सबसे बेस्ट तरीका है अपनी स्किल को डिवेलप करने का, क्योंकि हमें मौका मिल जाता है रियल प्रोजेक्ट्स पर काम करने का। 

इसलिए अगर हम कोई नई स्किल सीख लें और साथ में हम फ्रीलांसर बन जाते हैं, तो हम बहुत जल्दी अपनी स्किल को इम्प्रूव कर सकते हैं। अगर हम लर्निंग स्टेज में हैं, तो शुरू में  फ्री में भी हम काम कर सकते हैं। 


11. Make Your Own Application 

नंबर 11 पर आता है Make Your Own Application। अगर आप ऐप डेवलपमेंट में अच्छे हैं और आपके पास कोई इन्फ्लूएंसर फ्रेंड है या ऐसा इंसान है जो मार्केटिंग में अच्छा है तो आप दोनों मिलकर पार्टनरशिप में कोई प्रोडक्ट बना सकते हैं और अगर यह सक्सेसफुल हो गया तो आप दोनों बहुत जल्दी financially फ्री हो जाओगे। 


10. Equipment 

10 नंबर पर आता है Equipment.ऑटोमेटिक पेपर प्लेट मेकिंग मशीन, दोना मेकिंग मशीन, पेपर कप मेकिंग मशीन ऐसे इक्विपमेंट से जिनकी कॉस्ट ₹1 लाख के आसपास है ,और जो हमें काफी पैसा बना के दे सकते हैं। पर एक बात ध्यान में रखें हमसे ये सब लेने के लिए पहले से कोई डीलर तैयार होना चाहिए वरना इन्वेस्ट करने का फायदा नहीं है। 


9. Affiliate Marketing 

13 नंबर पर आता है Affiliate Marketing .अगर हम मार्केटिंग में अच्छे हो गए लेकिन हमारे पास हमारा प्रोडक्ट नहीं है तो पहले हम दूसरों का प्रोडक्ट सेल कर सकते और हर बार किसी का प्रोडक्ट सेल करने पर हमें कुछ कमीशन मिलेगा। नई स्टार्टअप normal signups के लिए भी अच्छे पैसे दे देंगी, स्पेशली जब वो customer acquisition stage में होते हैं। जैसे कि upstox  पर जो यूजर इनके platform में फ्री में डीमैट अकाउंट खोलता है, उन्हें यह ₹400 पे करते हैं । 


यह भी पढ़ें :कर्ज लेकर करोड़ो कैसे कमाते हैं |Loan Hacks to Become Rich| Financial Education in Hindi


8. Youtube Channel 

8 नंबर पर आता है यू ट्यूब चैनल। वैसे इसमें बहुत सी वीडियोज बन चुकी हैं । I hope , हम सब इससे फैमिलियर भी हैं। ये एक हाई इनकम स्किल है। अगर आपके पास ऑडियंस है तो you can earn money और जल्दी हम फाइनेंशियली फ्री हो सकते हैं। 


7. Royality 

7 नंबर पर आता है रॉयल्टी। हमारे नेबर थे जो कि एक टीचर थे तो उन्होने अपने स्कूल स्टूडेंट्स की प्रैक्टिकल के लिए एक दो बुक्स लिखी थी। अब जाहिर है उनके स्कूल के स्टूडेंट्स उनकी ही बुक्स खरीदेंगे, जिनके लिए उन्हें बारबर कमीशन मिलती रही। लगभग10 -15 साल तक कंटीन्यू से यही चलता रहा। 


6.Bonds 

6 नंबर पर आता है Bonds. अगर कंपनी के शेयर खरीदना में रिस्क लगता है तो शेयर्स के बजाय हम बॉन्ड खरीद सकते हैं। Bonds का मतलब है कि हम कंपनी को उधार दे रहे हैं । अगर हमें कंपनी पर विश्वास नहीं है तो हम रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया,RBI  से भी बॉन्ड खरीद सकते हैं। अभी इसमें 7.1% रेट अवेलेबल है, जो कि ज्यादा है एफडी से। 

RBI bonds interest rate


5. Agents 

9 नंबर पर आता है Agent। मेरे एक फ्रेंड हैं जो कि क्वॉलिटी इंजीनियर थे और उन्होंने अपनी वाइफ को LIC एजेंट बनवा दिया और क्योंकि वह एक क्वॉलिटी इंजीनियर हैं उन्होने काफी पॉलिसी सेल की। जहां तक कमीशन की बात है तो एलआईसी की वेबसाइट के अकॉर्डिंग अगर हम ₹2,000 वाली 10 पॉलिसीज भी पर मंथ सेल करते हैं तो साल की हमारी कमीशन बनती है ₹10,08,000। और अगर महीने की ₹2000 वाली सिर्फ दो पॉलिसीज भी सेल करते तो साल के 2,01,000 एक्स्ट्रा कैश हमें पहले साल में मिलेगा और उसके बाद भी कमीशन मिलती रहेगी। 


4. Facebook Advertising 

4 वे  पर आता है फेसबुक एडवर्टाइजिंग। बहुत  से मेरे ऐसे यूटयूब फ्रेंड हैं  जो फेसबुक एडवर्टाइजिंग को यूज करके एडिशनल प्रोडक्ट सेल कर रहे हैं और सबसे इंट्रस्टिंग बात ये है कि यह उनका खुद का कोई प्रोडक्ट नहीं है। 

अभी वो क्या कर रहे हैं वो रिवील नहीं कर सकता क्योंकि उनके एडवर्टाइजिंग कैम्पेन चल रहे हैं। लेकिन फेसबुक एडवर्टाइजिंग मार्केटिंग स्किल है और अगर इसे हम बिजनेस स्किल के साथ मैच कर देते हैं तो ये फाइनेंशियली फ्रीडम की तरफ हमारी जर्नी बहुत शॉर्टकट कर देगा। 


3. Airbnb 

3 नंबर पर आता है Airbnb । अगर हमारे पास कोई भी extra floor या वेकेशन home  अवेलेबल है जिसे हम यूज नहीं करते हैं तो एक बेस्ट तरीका है कि हम उसे Airbnb में लिस्ट कर दें और उन्हें रेंट पर चढ़ा दें। 

जिन्हें नहीं पता, Airbnb एक अप्लीकेशन है, जिसमें हम अपने घर का प्राइस और फोटोज लिस्ट कर सकते हैं और छोटी सी कमीशन के बदले टूरिस्ट उसमें रह सकते हैं। टूरिस्ट की आईडेंटिटी Airbnb से वेरीफाई होगी। 

अगर हमारे घर में टूरिस्ट तोड़फोड़ करते भी हैं तो Airbnb 7 करोड़ तक का insurence हमें देता है। तो अगर आपका घर किसी ऐसी जगह पर है जहां पर टूरिस्ट आते हैं तो ये best source of income बन सकता है। 


2. Angel Investing 

2 नंबर पर आता है Angel Investing । इसमें कॉन्सेप्ट ये है कि अगर आप को किसी नए स्टार्टअप के फाउंडर पर यकीन है तो उसके बिजनेस में हम शुरू में इनवेस्ट कर सकते हैं और अगर वो सक्सेसफुल हो जाता है तो हमारे पैसे भी बहुत गुना इनक्रीस हो जाएंगे जो नॉर्मल इन्वेस्टिंग में पॉसिबल नहीं।  

वैसे ये ऑप्शन हर किसी के लिए अवेलेबल नहीं है क्योंकि मैक्सिमम केसेज में इसके लिए हमें Accredited Investor  होना पड़ता है। इंडियन गवरमेंट के अकॉर्डिंग जो ऑर्गनाइजेशन्स सेबी से रेगुलेटेड नहीं हैं, अगर हम उन कंपनीज में निवेश करना चाहते हैं तो हमारे पास कम से कम ₹5 करोड़ होने चाहिए लिक्विड फॉर्म में और साल के ग्रॉस ₹50 लाख इन्वेस्ट होने चाहिए। 

अब आप सोच रहे होंगे कि अगर हमारे पास इतने पैसे होते तो हम तो पहले से ही फाइनेंशियली फ्री होते। Yes you are right ,पर यह पॉइंट था तो मुझे लगा  की मुझे शेयर करना चाहिए। 


1. Buisness 

1 नंबर पर आता है बिजनेस। This is one of the best and my favourite। चूंकि शायद मैं खुद भी इसी तरफ  inclined  हूं, तो अगर हम अपनी किसी फ्रेंड या जानने वाले के साथ मिलकर कोई स्टार्टअप खोल दें और वो सक्सेसफुल हो जाता है, तो फाइनेंशल फ्रीडम का अमाउंट कुछ ही सालों में अचीव हो सकता है। 

बिजनेस में मेरी एक रिकमंडेशन रहेगी, एक कॉन्सेप्ट है First who, than what। यानी पहले ये डिसाइड कर लो कि बिजनेस में साथ में कौन चाहिए और बाद में ये डिसाइड करो कि करना क्या है। क्योंकि ज्यादातर बिजनेस सिर्फ तभी फेल होते हैं क्योंकि फाउंडर्स के बीच में रिलेशनशिप स्ट्रेसफुल टाइम में  ख़राब हो जाता है।


Bonus Asset

Index Funds 

Index Fund is one of the easiest way financially free  होने के लिए । इसमें सबसे अच्छी बात ये है कि हमारे पैसे ऑटोमेटिकली कटते रहेंगे अगर हम SIP  स्टार्ट करते हैं तो। लेकिन इसमें इश्यू ये आता है कि ज्यादा लोग इसमें इन्वेस्ट नहीं करते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि इसमें बहुत ज्यादा टाइम लगेगा और एक्चुअल में लगता भी है 10, 20, 30  साल तक। अगर हम वैसे भी किसी न किसी गोल के लिए लॉन्ग टर्म प्लानिंग कर रहे हैं  तो हम इसे कंसीडर कर सकते हैं। 


Bottomline

तो दोस्तों , अगर आपको ऐसा लगा कि इन assets  से आपके ब्रेन में oppurtunities खुली है तो ये article आप अपने फ्रेंड्स, फैमिली मेंबर्स के साथ जरूर शेयर करें क्योंकि उनके साथ भी यही impact  होगा। तो दोस्तों अंत तक आर्टिकल पढ़ने के लिए धन्यवाद। 


यह भी पढ़ें :इन 6 Middle-Class Traps से बचें जो आपको आर्थिक रूप से पीछे धकेल सकते हैं


Ethan

About the Author: Ethan is an experienced content writer with over 7 years of experience in crafting engaging and informative articles. His passion for reading and writing spans across various topics, allowing him to produce high-quality content that resonates with a diverse audience. With a keen eye for detail and a commitment to excellence, Ethan consistently delivers top-notch work that exceeds expectations.

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने