दांतो और मुहं की समस्याओं के लिए कर ले सिर्फ एक यह उपाय , कभी नहीं होगी मुँह और दांतो की कोई समस्या

दोस्तों, आज मैं आपसे एक नेचुरल सप्लीमेंट के बारे में बात करने वाला हूं जिसको इस्तेमाल करके आप मुंह की लगभग हर बीमारी को बड़ी आसानी से ठीक कर सकते हैं। तो अगर आपको ओरल हेल्थ से संबंधित कोई भी समस्या है जैसे ,मुंह से बदबू आती है, मुंह में छाले होते हैं, मसूड़ों से खून आता है, मसूड़े सूजे हुए हैं, कैविटी हो या दांतों में दर्द रहता है तो एक बार इस नेचुरल सप्लीमेंट को इस्तेमाल करके देखें, आपको बहुत फायदा होगा। 

यह सप्लीमेंट आपको मात्र ₹30 में किसी भी केमिस्ट की दुकान से मिल जाएगा। आइए तो फिर बिना किसी देरी के शुरू करते हैं आज का यह लेख । 

Only one solution for all oral problems


दांतो की सारी समस्याओं का सिर्फ एक उपाए

दोस्तों, जिस नेचुरल सप्लीमेंट की मैं बात कर रहा हूँ वो है लौंग का तेल। लौंग एक मसाला है जो लगभग हर भारतीय रसोई में मिल जाएगा। इस लौंग को पीस कर और पाउडर बनाकर जब किसी बेस ऑयल में 10-15 दिन के लिए रखते हैं और फिर छान लेते हैं तो उसे लौंग का तेल कहते हैं। यह आप घर पर भी बना सकते हैं। 

वैसे जैसे मैंने आपको कहा ये आपको किसी भी केमिस्ट की दुकान से भी बड़ी आसानी से मिल जाएगा। दोस्तों लौंग के तेल में एक मिश्रण पाया जाता है जिसे यूजीनोल (Eugenol) कहते हैं। यूजीनोल ही कारण है कि लौंग का तेल न सिर्फ आयुर्वेद में बल्कि ट्रेडिशनल चाइनीज दवाओं में स्किन प्रॉब्लम से लेकर बढ़ी हुई ब्लड शुगर को कम करने में भी काम आता है। 

यूजीनोल की तासीर को देखते हुए आधुनिक शोध भी आज इसकी प्रभावशीलता को मानती है। आज हम बात करेंगे कि क्यों लौंग का तेल मुंह की सभी प्रॉब्लम्स के लिए बेस्ट नेचुरल सप्लीमेंट है और इसे कैसे और कितनी मात्रा में यूज करना चाहिए। 


Serial Number Headings Covered
1 मुहं की समस्याएं बढ़ने के पीछे सबसे अहम कारण?
2 माउथवॉश के लिए लौंग के तेल का उपयोग कैसे करें
3 दांत दर्द से तुरंत राहत के लिए लौंग के तेल का उपयोग कैसे करें
4 दांतों और मसूड़ों की समस्याओं के लिए लौंग के तेल का उपयोग कब और कैसे करें
5 लौंग के तेल के बोनस फायदे


मुहं की समस्याएं बढ़ने के पीछे सबसे अहम कारण?

दोस्तों, मुंह की देखभाल जितनी जरूरी है उतना ही लोग इसे नजरअंदाज कर जाते हैं। सर्वे बताते हैं कि 86% लोग ओरल हेल्थ को बहुत हलके में लेते हैं। शायद इसीलिए आजकल दांतों का सड़ना, दांतों का खोखला होना, सेंसिटिविटी की शिकायत, मुंह से बदबू, मुंह में बार बार छाले होना और मसूड़ों में से खून आना जैसी प्रॉब्लम्स बहुत आम हो चुकी हैं। 

Most important reason behind increasing oral problems?


वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) के हिसाब से भारत में 95% लोगों को दांतों और मसूड़ों से सम्बंधित कोई न कोई दिक्कत जरूर रहती है। दोस्तों, ध्यान देने वाली बात यह है कि मुंह की प्रॉब्लम सिर्फ मुंह की नहीं होती बल्कि हमारी बॉडी के अलग अलग ऑर्गन हमारे मुंह से कनेक्टेड हैं। 

आपने देखा होगा कि कैसे डॉक्टर सिर्फ आपके मुंह को देखकर आपकी अंदरूनी बीमारियों का अनुमान लगा लेते हैं। इसलिए ओरल हेल्थ प्रॉब्लम्स को नजरअंदाज करना आपको भारी पड़ सकता है। लेकिन अच्छी बात यह है कि एक्सपर्ट्स ऐसा मानते हैं कि मुंह की प्रॉब्लम जितनी जल्दी शुरू होती है, उतनी जल्दी ठीक भी हो जाती है, बशर्ते हम इन पर थोड़ा ध्यान दें। 


माउथवॉश के लिए लौंग के तेल का उपयोग कैसे करें

दोस्तों, लौंग के तेल में पावरफुल एंटी माइक्रोबियल गुण होते हैं। यानी आपके मुंह में जो गंदे बैक्टीरिया बनते हैं जिस वजह से न सिर्फ मुंह से बदबू आती है बल्कि मसूड़ों से खून बहना और इन्फेक्शन भी हो सकता है, उन्हें लौंग का तेल खत्म कर देता है। 

एक शोध हुई जिसमें यह देखा गया कि जिन लोगों ने 21 दिन तक लौंग के तेल से माउथवॉश किया उनके मुंह में न सिर्फ नुकसानदायक बैक्टीरिया कम हो गए बल्कि दांतों पर चिपका प्लाक भी हट गया और मसूड़े पहले से ज्यादा हेल्दी हो गए। 

आपको जब भी माउथवॉश करना हो तो पानी में सिर्फ दो बूंद लौंग की तेल की डाल लें और इस पानी को अच्छे से मुंह के हर हिस्से में घुमा लें और कुल्ला कर दें। आप तुरंत मुंह में ताजगी महसूस करेंगे। 

How to use clove oil for mouthwash

दोस्तों, मार्केट में मिल रहे महंगे एल्कोहल युक्त माउथवॉश को अब हाथ जोड़ो जिन्हें नियमित इस्तेमाल करने से साइड इफेक्ट्स होते हैं ऐसा मॉडर्न साइंस भी मानती है। इन केमिकल माउथवॉश के नियमित इस्तेमाल से आपके मुंह में सूखापन हो सकता है, जलन हो सकती है और छालों की प्रॉब्लम भी हो सकती है। 


दांत दर्द से तुरंत राहत के लिए लौंग के तेल का उपयोग कैसे करें

दोस्तों, आप शायद जानते ही होंगे कि दांतों के दर्द के लिए हमारे बड़े बूढ़े लौंग का तेल लगाने की सलाह देते रहे हैं। भले ही उन्हें इसके पीछे की साइंस ना पता हो लेकिन यह नुस्खा कारगर है, यह वह जानते थे। आज मेडिकली यह बात साबित हो चुकी है कि लौंग का तेल एक नेचुरल एनाल्जेसिक है जिस वजह से अगर आपको दांतों या मसूड़ों में किसी भी तरह का दर्द हो तो दो बूंद लौंग के तेल को रुई पर लगाकर उसे उस जगह पर लगा लें। 

जब आप ऐसा करेंगे तो लौंग का तेल उस हिस्से को सुन्न कर देता है जिस वजह से कुछ ही सेकंड में दर्द से आराम मिल जाता है और वह भी बिना किसी साइड इफेक्ट के। दूसरा लौंग का तेल क्योंकि एंटी इंफ्लामेटरी होता है तो यह एक साधारण दर्दनाशक की तरह सिर्फ दर्द को ऊपर ऊपर से ही ठीक नहीं करता बल्कि अंदर से हुई सूजन को सही करता है। 

अगर आपको अक्सर ही मुंह के छाले हुए रहते हैं तो लौंग का तेल एंटी इंफ्लेमेटरी होने की वजह से आपको जरूर इस्तेमाल करना चाहिए। आप इसे माउथवॉश के तौर पर यूज कर सकते हैं या फिर अपने टूथपेस्ट पर ही लौंग के तेल की एक बूंद डालकर नॉर्मल ब्रश कर सकते हैं। 

आप सोच रहे होंगे कि लौंग का तेल तो हर हर्बल टूथपेस्ट में होता ही है तो अलग से क्यों इस्तेमाल करें। बात सही है, लेकिन फर्क है मात्राका। टूथपेस्ट में बहुत ही कम मात्रा में ही लौंग का तेल होता है जिस वजह से उसका पूरा असर नहीं मिल पाता। दोस्तों, लौंग के तेल में जबरदस्त एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो महंगे से महंगा टूथपेस्ट भी आपको प्रदान नहीं कर सकता। 

How to use clove oil for instant tooth pain relief


एंटीऑक्सीडेंट, सेल्स के अंदर ऑक्सीडेटिव डैमेज करने वाले फ्री रेडिकल्स को मारते हैं जिस वजह से आप इंफेक्शन से लेकर माउथ कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से बच जाते हैं। शोधों में हैरान कर देने वाली बात सामने आई कि जो लौंग के तेल में मौजूद यूजीनोल (Eugenol) होता है वह विटामिन E  की तुलना में पांच गुना ज्यादा असरदार एंटीऑक्सीडेंट है। 

अगर आपको आइडिया ना हो तो मैं बताता चलूं कि विटामिन E को सबसे पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट में से एक माना जाता है। बहुत सी शोधों में देखा गया है कि लौंग का तेल इस्तेमाल करने से ट्यूमर की ग्रोथ रुक जाती है और कैंसर सेल्स मरने लगते हैं। 


दांतों और मसूड़ों की समस्याओं के लिए लौंग के तेल का उपयोग कब और कैसे करें

अब यह तो स्पष्ट है कि लौंग का तेल बहुत फायदेमंद है, लेकिन फिर भी यह सवाल रह जाता है कि इसको कब, कैसे और कितना इस्तेमाल करें ताकि पूरा फायदा मिले। एक तो आप इसे माउथवॉश की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। आप एक 200 ml  बॉटल में 10 बूंद लौंग का तेल मिक्स करके अपने बाथरूम में रख लो। जब भी माउथवॉश करना हो तो इसे ही यूज करो। 

दूसरा टूथपेस्ट पर ही इसकी एक बूंद डालकर नॉर्मल ब्रश कर सकते हैं। फिर आप थोड़ा सा टूथ पाउडर ले लें और उसमें सरसों का तेल या नारियल का तेल मिक्स कर लें। अब इसमें दो बूंद लौंग का तेल की मिला लें। अब इसको उंगली से ही मिक्स करके पेस्ट बना लें और अपने दांतों और गम्स की हल्के हाथों से हर तरफ से मसाज कर लें। 

दोस्तों यह तरीका बहुत असरदार है। थोड़ा जलेगा जरूर लेकिन घबराएं नहीं, लौंग का तेल तीक्षण होता है जिस वजह से अंदर तक जाकर गंदगी बाहर निकाल देता है। लौंग का तेल का उपयोग करते समय आप महसूस करेंगे कि सलाइवा (लार) ज्यादा बन रहा है। 

यह सलाइवा मूल रूप से मुंह का गंदा पानी होता है, जिसमें दांतों में सड़न पैदा करने वाले बैक्टीरिया होते हैं। इसे थूक दें और फिर सामान्य पानी से कुल्ला कर लें। मुंह इतना फ्रेश महसूस होगा कि बड़े बड़े माउथवॉश इसके आगे फीके पड़ जाएंगे। दोस्तों, लौंग के तेल के कोई साइड इफेक्ट नहीं होंगे अगर आप इसकी मात्रा का ध्यान रखें तो । लौंग का तेल बहुत तेज होता है इसलिए एक बार में इसकी 2 से 3 बूंदें ही काफी है। 


यह भी पढ़ें :

Patanjali के यह 5  जबरदस्त Products जो आपको ज़रूर TRY करने चाहिए


लौंग के तेल के बोनस फायदे

दोस्तों, यह तो हुए लौंग के तेल के ओरल हेल्थ बेनिफिट्स। अब बात करते हैं कुछ बोनस बेनिफिट्स की। अगर आप इस लौंग के तेल की दो बूंदों को आधा गिलास पानी में मिक्स कर लें और इसे रोज सुबह उठकर खाली पेट पी लें तो आपको इससे बहुत फायदे मिलेंगे। 

  • सबसे पहले तो आपकी पाचन शक्ति बढ़ेगी। 
  • पेट में अल्सर हो तो उसमें आराम आने लगेगा। 
  • लौंग का तेल क्योंकि इंसुलिन की प्रोडक्शन को बढ़ाता है, इस वजह से ब्लड शुगर नीचे आएगी। 
  • यह खून को प्राकृतिक रूप से पतला करता है, जिस वजह से धमनियों में ब्लॉकेज नहीं होती। 
  • इसे आप सरदर्द या पेट दर्द के समय पर भी प्राकृतिक पेन किलर की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। 

दोस्तों लौंग को सब्जी या चाय में डालकर पीना और लौंग के तेल का ऊपर बताये गए तरीके से इस्तेमाल करने में बहुत फर्क है। 15 दिन लगातार ऐसे पी लें आपको काफी फायदा होगा। 


निष्कर्ष 

दोस्तों , जैसे कि हमने बात की है कि लौंग का तेल आपको केमिस्ट की किसी भी दुकान में मात्र ₹30 में मिल जाएगा, बहुत सी फार्मेसी इसे बनाती भी हैं आप इनमे से कोई भी ले सकते हैं। दोस्तों मुहं की समस्याओं के अलावा लौंग का तेल आपकी स्किन के लिए भी काफी अच्छा होता है। 

तो दोस्तों, यह था हमारा आज का लेख लौंग के तेल के फायदों और इस्तेमाल के बारे में। कमेंट करके हमें जरुर बताइयेगा की आपने इससे पहले लौंग के तेल को किस वजह से उपयोग किया था और उसका नतीजा आपको कैसा मिला। अंत तक हमारे साथ रहने के लिए धन्यवाद। 

Ethan

About the Author: Ethan is an experienced content writer with over 7 years of experience in crafting engaging and informative articles. His passion for reading and writing spans across various topics, allowing him to produce high-quality content that resonates with a diverse audience. With a keen eye for detail and a commitment to excellence, Ethan consistently delivers top-notch work that exceeds expectations.

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने